Breast Size Kaise Badhaye

अपने स्तनों को कैसे बढ़ाए – Breast size kaise badhaye
क्या आप भी जानना चाहती हैं कि स्तनों को कैसे बढ़ाएं ( Breast Size Kaise badhaye or How to Increase Breast size in hindi )? तो आप बिल्कुल सही जगह पर आई हैं क्योंकि आजकल ज्यादातर लड़कियां एंवम महिलायें अपने प्राकृतिक ब्रैस्ट (स्तन) के साइज से संतुष्ट नहीं हैं ।
लेकिन आप चिंतित बिल्कुल भी ना हों क्योंकि दुनिया में आप ऐसी अकेली लड़की नहीं हो जो इस प्रकार कि समस्या से पीड़ित हो| इसलिए सबसे पहले आप मानसिक रूप से बिल्कुल फ्री हो जाएं।
दुनिया मे ऐसी बहुत सी महिलाएं एंवम लड़कियां हैं, जो बिना सर्जरी के विभिन्न विधियों के द्वारा प्राकृतिक रूप से बड़े स्तन पाने का प्रयास करती हैं।
इसलिए वो इंटरनेट पर Breast size badhane ke upay, stan kaise badhaye, Stan kaise bade kare and How to increase Breast size in hindi जैसे सवाल सर्च करती हैं।
इसलिए आपको स्तन बढ़ाने के लिए और कहीं सर्च करने कि आवश्यकता नहीं पड़ेगी। और साथ में ढीले एंवम लटके हुए स्तनों को टाइट करने के बारे में आपको संपूर्ण जानकारी प्रदान कि जाएगी।
क्योंकि आपको इस लेख में स्तनों के छोटे होने के कारण, स्तन बढ़े करने के घरेलू नुस्खे, स्तनों को टाइट करने के उपाय, स्तनों के लिए Exercise, स्तन का साइज़ बढ़ाने वाले योग, स्तन बढ़ाने के लिए आहार एंवम स्तन को बढ़ा करने वाले तेलों के बारे में बताया जाएगा।
इसलिए आप इस लेख को बड़ी ही सावधानी से पढ़ें ताकि आपको हर एक सलाह अच्छे से समझ आए जिससे आपको अत्यधिक फायदा मिल सके।
आपके स्तन कितने बड़े होने चाहिए – Breasts Ka Shi Size Kitna Hona Chahiye
आपके स्तनों का आकार कितना होना चाहिए? यह बात आपकि शारीरिक संरचना जैसे कि वजन एंवम कद पर निर्भर करती है।
बाकी आपकि इच्छा पर निर्भर करता है कि आपको किस आकार के स्तन अच्छे लगते हैं, बड़े या छोटे।
लेकिन सामान्यत: स्तनों का आकार 14 वर्ष एंवम उससे अधिक आयु की लड़कियों व महिलाओं में 30 और 40 inch के बीच में हो सकता है।
इसलिए आप अपने स्तनों के आकार को अच्छे से जांच ले तथा उसी के अनुसार आप स्तन बढ़ाने एंवम घटाने का प्रयास करें।
स्तन छोटे होने के कारण – Breast Size Chote Hone Ke karan
कुछ मुख्य कारण जिनकी वजह से आपकि ब्रेस्ट साइज कम रह जाती है, जैसे :
• आपकि उम्र एंवम कद (height) के अनुसार आपका वजन कम होना भी स्तनों के छोटे होने का मुख्य कारण है।
• अपने दैनिक जीवन में संतुलित एंवम पौष्टिक आहार की कमी होना। जिससे आपका शारीरिक विकास संपूर्ण रूप से नहीं हो सकता।
• जिस समय स्तनों का विकसित होना आरंभ होता है उस वक्त आपके शरीर में हार्मोन की कमी होना एंवम असंतुलित हार्मोन होना।
• बहुत ज्यादा मानसिक तनाव के कारण भी आपके हार्मोन असंतुलित हो सकते हैं।
• यदि आपके परिवार मे जैसे कि माता, नानी एंवम दादी के स्तन छोटे हैं, तो ये आनुवंशिक गुणों के कारण आपके अंदर भी यह समस्या हो सकती है।
• किसी बीमारी के कारण शरीर का अत्यधिक वजन कम हो जाना।
• आपका पाचन तंत्र ( Digestive system ) कमजोर होना जिसकी वजह से खाया पिया शरीर में नहीं लगता।
• किसी दवाई के कारण होने वाले साइड इफेक्टस के कारण
इन कारणों के जानने के बाद आपके मन में ये सवाल जरूर आया होगा कि Breast size Kaise Badhaye इसलिए आगे दी जानकारियों को ध्यानपूर्वक पढे ।
स्तन बढ़ाने के घरेलू उपाय – Stan Badhane Ke Gharelu upay

ब्रेस्ट का आकार बढ़ाने वाले आसान तरीके इस प्रकार हैं:-
अधिक एस्ट्रोजन ( estrogen ) वाले खाद्य पदार्थ खाएं
एस्ट्रोजन हार्मोन महिलाओं और लड़कियों के लिए बहुत महत्वपूर्ण हार्मोन होता है। जिसके कारण लड़कियों के स्तनों का विकास होता है और यह किशोरावस्था में लड़कियों के ब्रैस्ट को उत्पन्न करता है तथा 19 वर्ष की उम्र में लड़कियों के शरीर में इसका उत्पादन होना बंद हो जाता है।
यदि आपकि उम्र 19 वर्ष से अधिक है और आप चिंतित हैं कि अब आपके शरीर में यह हार्मोन बनना बंद हो गया तो क्या मेरे स्तन बड़े नहीं होंगे? यह सवाल उठना स्वाभाविक है।
इसलिए आपको एस्ट्रोजन हार्मोन कि आपूर्ति के लिए अपने भोजन में सोया प्रोडक्ट्स को शामिल करना होगा जैसे कि सोया मिल्क, सोयाबीन्स, सोया टोफू और सोया चीज़ खाकर अपनी एस्ट्रोजन हार्मोन कि कमी को पूरा कर सकती हैं।
इसके अलावा आप एस्ट्रोजन हार्मोन के सप्लीमेंट ले सकते हैं, जो आपके स्तनों का आकार बढ़ाने वाली हर्ब्स से मिलने वाले एस्ट्रोजन के द्वारा बनाई जाती हैं|
मालिश करना
अपने स्तनों के अच्छे आकार के लिए आपको स्तनों कि मालिश करना बहुत ही आवश्यक है। इसलिए, प्रतिदिन 10 से 15 मिनट तक अच्छे से अपने स्तनों की मालिश करें।
जिससे आपके स्तनों कि मांशपेशियाँ मजबूत होंगी तक उस क्षेत्र में रक्त का प्रवाह अधिक होगा।
मालिश के लिए आपको मेथी का तेल, जैतून,तिल का तेल सोयाबीन का तेल आदि में से आपको जो सही लगे उस तेल का प्रयोग कर सकती हैं।
इस बात का ध्यान रखें कि नियमित रूप से प्रयोग करेंगी तो ही आपको संतोषजनक परिणाम मिलेंगे।
विटामिन का सेवन करना
यदि आप स्तनों को बड़ा करना चाहती हैं तो विटामिन का सेवन करना बेहद सुरक्षित तरीका माना गया है।
ऐसा इसलिए है क्योंकि विटामिन A, B , B3, B6, C, and E आपके स्तनों के संपूर्ण विकास के लिए काफी लाभदायक सिद्ध हुए हैं।
क्योंकि विटामिन -A कोलेजन के उत्पादन में सहायक होता है, जो आपके स्तनों को मजबूत करता है।
और विटामिन – B3 आपका रक्त परिसंचरण तंत्र सुधारने में काफि सहायक है, जिससे कारण आपके स्तनों के विकास में काफी वृद्धि होती है।
विटामिन -C, कोलेजन को पैदा करता है, जो आपके स्तनों की कोशिकाओं को हाइड्रेटेड या नमी बनाए रखता है। इससे आपके शरीर के अन्य हार्मोन संतुलित रहते हैं।
जिसके फलस्वरूप आपके स्तनों के आकार को सकारात्मक वृद्धि मिलती है।
रही बात विटामिन -E कि तो यह आपके कोलेस्ट्रॉल के स्तर को नियंत्रित रखती है जो कि आपके स्तनों के विकास में अत्यधिक फ़ायदेमंद होता है।
यदि आप विटामिन कि पूर्ति करना चाहती हैं तो मल्टीवाइटमन ( Multivitamins ) का सेवन करना भी एक अच्छा स्त्रोत है।
अलसी का सेवन

अलसी आपको स्तनों के अलावा और भी बहुत फायदे करता है क्योंकि इसमें ओमेगा-3 प्रचुर मात्रा में होता है जो आपके दिमाग एंवम दिल के लिए काफी लाभदायक होता है।
इसमें पाए जाने वाले पोषक तत्व स्वास्थ्य के लिए बहुत फ़ायदेमंद होते हैं।
इसमें पाया जाने वाला तत्व लिगनेन (lignans) आपके स्तनों के लिए बहुत उपयोगी होता है।
दूध

आपको स्तनों के विकास के लिए दूध व दूध से बने पदार्थों का सेवन करना चाहिए। क्योंकि दूध में अत्यधिक मात्रा में पोषक तत्व पाए जाते हैं।

देशी गाय के दूध में तो एस्ट्रोजन और प्रोजेस्ट्रोन जैसे महिलाओं के प्राथमिक हॉर्मोन मौजूद होते हैं। और इनके अलावा दूध में विटामिन-डी भी होता है।
ये सभी तत्व आपके स्तनों का आकार बढ़ाने में काफी सहायक सिद्ध होंगें।

सौंफ
सौंफ भी आपके लिए काफी फायदेमंद होगी क्योंकि सौंफ़ के बीजों के अंदर फ्लेवोनोइड्स (flavonoids) कि मात्रा भरपूर होती है, और इनके अंदर एस्ट्रोजनिक गतिविधि होती है।
जिसके फलस्वरूप आपके शरीर में एस्ट्रोजन कि मात्रा बढ़ जाती है, जिससे आपके स्तन बड़े होंगें। इसलिए इसका प्रयोग आप प्रीतिदिन करें।
सतावर चूर्ण
सतावर चूर्ण महिलाओं के लिए बहुत फायदेमंद होता है। यदि आपके शरीर में हार्मोन्स का असंतुलन है तो सतावर के उपयोग से आपके सभी हार्मोन्स संतुलित मात्रा में स्रावित होंगें।
इसके सेवन से ज्यादातर स्तन बढ़ाने के लिए किया जाता है।
ब्रेस्ट बढ़ाने के लिए मालिश योग्य तेल – Massage Oils For Increasing Breasts Size in Hindi
वैसे तो मालिश करना पूरे शरीर के लिए बहुत फायदेमंद है लेकिन आपके स्तनों के आकार को बढ़ाने में भी यह बहुत सहायक है।
क्योंकि इससे स्तनों में रक्त का संचार अच्छे से हो जाता है, और मालिश करने से आपके स्तनों कि मांशपेशियाँ भी मजबूत होती हैं।
अपने स्तनों कि मालिश के लिए आप निम्न प्रकार के तेल उपयोग में ल सकते हैं:-
सोयाबीन तेल

• Stan badhane ke upay
सोयाबीन तेल से मालिश आपके स्तनों के लिए बेहद फायदेमंद साबित होगी क्योंकि ये आपके शरीर में एस्ट्रोजेन के स्तर को बढ़ा देता है जिसके फलस्वरूप आपके स्तनों का आकार बढ़ने लगता है। इस प्रक्रिया को रोजाना दोहराएं ।
जैतून तेल
जैतून का तेल हमारे संपूर्ण स्वास्थ्य के लिए एक वरदान के रूप में कार्य करता है। और सरह में यह आपके छोटे एंवम ढीले स्तनों के लिए भी बहुत उपयोगी है।
इसलिए इस तेल को हल्का गरम करें तथा प्रतिदिन एक बार 10-15 मिनट तक हल्के हाथों से अपने स्तनों की मालिश करें।
लौंग का तेल
लौंग के तेल द्वारा अपने स्तनों कि मालिश करना और अपने स्तनों को बड़ा करना काफी प्रभावशाली माना जाता है।
और इस तेल का ज्यादा इस्तेमाल नहीं करना चाहिये। अगर आप इस तेल से लगातार 45-60 दिनों तक मालिश करती हैं तो आपको निश्चित रूप से फायदा मिलेगा तथा आपके स्तनों का आकार 2-4 इंच तक बढ़ सकता है।
तिल का तेल
तिल का तेल भी मानव स्वास्थ्य के लिए बेहद गुणकारी होता है। इसी के साथ आपके स्तनों को बढ़ाने में भी तिल के तेल द्वारा मालिश करना बहुत उपयोगी सिद्ध होगा ।
इस तेल को हल्का गरम करें तथा उसी के पश्चात इसकी मालिश करें और इसके बेहतर परिणाम के लिए आपको 9 से 10 हफ्तों तक लगातार उपयोग करना पड़ेगा।

जानिए योग अभ्यास से Breast Size Kaise Badhaye
1.गोमुखासन
2.उष्ट्रासन
3.कटिचक्रासन
4.वीरासन
5.वज्रासन
6.धनुरासन
7.मत्स्यासन
8.चक्रासन
9.सेतुबंद आसान
10.भुजंगासन
11.वृक्षासन
12.कपालभाति एंवम भस्त्रिका प्राणायाम का अभ्यास भी काफी लाभदायक है।
इन आसनों एंवम प्राणायामों के अभ्यास से आपके स्तनों में अवश्य वृद्धि होगी। बल्कि ना केवल इन योग अभ्यासों से छाती की मांसपेशियां मजबूत होंगी इसके साथ ही आपके स्तन सुन्दर एंवम सुडौल बनेंगें।
स्तन बढ़ाने वाले व्यायाम – Exercises for Increasing Breast Size in Hindi
स्वस्थ सुंदर एंवम सुडौल शरीर पाना हर इंसान कि चाहत होती है। और रही बात महिलाओं कि तो उन्हें तो सुडौल शरीर कि पुरुषों से भी ज्यादा चाहत होती है।
इसलिए आपको सुंदर और सुडौल शरीर बनाने के लिए व्यायाम करना अनिवार्य होगा। और आपके स्तनों को बड़ा एंवम आकर्षक बनाने में व्यायाम बहुत सहायता कर सकता है।
हम आपको स्तनों को बड़ा करने वाले व्यायामों के बारे में बताते हैं जो आपके लिए आसान एंवम उपयोगी होंगे। इसलिए आप पुश-अप, डम्बल प्रेस, वाल प्रेस आदि व्यायाम कर सकती है। इनके अलावा आप प्लैंक भी कर सकती हैं जिसका वर्णन इस प्रकार है –
प्लैंक planks :- वैसे तो प्लैंक आपके पूरे शरीर के लिए लाभदायक होता है। इसके द्वारा आपके शरीर को काफी अच्छी खासी स्ट्रेंथ मिलती है।
यदि आपको ब्रेस्ट को बड़ा करना है तो बाजुओं और छाती को ही टार्गेट करना पड़ेगा।इसलिए अपनी हथेलियों को नीचे फर्श लगा ले फिर अपनी बाजुओं को ऐसे फैलाएँ, ताकि आपकी छाती आपकी हथेलियों के ऊपर आ जाए।
अपनी पीठ को बिल्कुल सीधा रखें। इस स्तिथि में आप लगातार 40 से 60 सेकंड तक रहें, इसके बाद आप वापिस फर्श पर लेट जाएं। इस प्रक्रिया को आप 3 बार दोहराएं।
इस अभ्यास से आपके स्तनों को मजबूती मिलेगी और आकर में बड़े होंगें। क्योंकि इसका सीधा प्रभाव आपकी छाती कि माशपेशियों और ऊतकों के ऊपर पड़ता है। जिससे आपके स्तनों के ऊतकों एंवम माशपेशियों का विकास होता है।
कुछ महत्वपूर्ण बातें
• ये बात हम आपके बता देते हैं कि प्रत्येक व्यक्ति का शरीर एंवम रहन सहन सब अलग अलग होता है इसलिए सभी के ऊपर हर्ब, डाइट , योग व व्यायाम तथा दवाओं का असर अलग-अलग हो सकता है।
• अगर आप प्राकृतिक रूप से अपने स्तनों को बड़ा करना चाहती हैं, तो आपको परिणाम दिखाई देने में संभवतः समय लग सकता है, इसलिए धैर्य कायम रखें और निरंतर प्रयास करते रहें।
• सबसे पहले ये बात भी जान ले कि कभी आपके स्तन छोटे होने का कारण आपका वजन कम होना तो नहीं है। अगर ऐसा है तो आपको वजन बढ़ाने के उपाय भी अवश्य करने पड़ेंगे।
• आपके स्तनों का आकर महिलाओं में जो हार्मोन्स स्रावित होते हैं उनके ऊपर निर्भर करता है। और हार्मोन्स के संतुलन में सकारात्मक सोच सबसे पहले स्थान पर आती है। इसलिए इन सभी प्रयासों के साथ-साथ अपने मन में पूर्ण विश्वास तथा सकारात्मक सोच बनाए रखें।
• इस बात का विशेष ध्यान रखें कि आप जो भी तरीके आजमा रहें हैं उनको नियमित रूप से प्रयोग मे लाती रहें। क्योंकि आपकि निरन्तरता ही सफलता कि कुंजी है।
• कोई भी व्यायाम व योग एक योग्य प्रशिक्षक कि निगरानी मे ही करें। अन्यथा लाभ कि जगह हानि भी हो सकतीं है जिसके आप स्वयं जिम्मेवार होंगे।
Conclusion
हमने इस लेख में आपको “Breast Size Kaise Badhaye” के बारे में विस्तरित जानकारी प्रदान कि है।
हमारा मुख लक्ष्य यही है कि हमारी जानकारी के द्वारा आपको ज्यादा से ज्यादा लाभ मिले।
अगर आपको हमारे द्वारा दी गई जानकारी थोड़ी भी अच्छी लगी तो comment करके अवश्य बताएं।
अगर आपका स्वास्थ्य से संबंधित कोई भी सवाल है तो आप comment करके पूछ सकते हैं । और ‘स्तन कैसे बढ़ाए’ “Breast size kaise badhaye”लेख में आपके कोई सवाल हैं तो उन्हें भी आप पूछ सकते हैं। इस लेख को पूरा पढ़ने के लिये आपका बहुत-बहुत धन्यवाद ।

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *