कोरोना वायरस COVID-19 के कुछ महत्वपूर्ण तथ्य

 

COVID-19 क्या होता है?

COVID-19 नामक यह वायरस कोरोना वायरस कि श्रेणी का ही एक नया वायरस है। ‘CO’ का अर्थ होता कोरोना है, एंवम ‘VI’ का अर्थ है वायरस ।बीमारी के लिए ‘डी’ पूर्व में, इस बीमारी को novel 2019 coronavirus के रूप में परिभाषित किया गया था। और यह वायरस SARS Coronavirus Family का ही सदस्य है । 

COVID-19 के लक्षण क्या हैं?

 Coronavirus COVID-19 के सामान्य लक्षणों में बुखार, खांसी और सांस लेने में तकलीफ आदि हो सकते हैं। एंवम अधिक गंभीर मामलों में, यह संक्रमण का कारण बन सकता है। जैसे कि निमोनिया या साँस लेने में परेशानी होना । यह  बीमारी घातक सिद्ध हो सकती है। एंवम इसके लक्षण अन्य बीमारियों से काफी समान हैं।

जैसे- फ्लू (इन्फ्लूएंजा) या सामान्य सर्दी, जो COVID-19 वायरस के साथ बहुत अधिक मिलते-जुलते हैं। इसीलिए इसका सही से परीक्षण करवाना अति आवश्यक है। इसी परीक्षण के बाद ही यह कहना उचित होगा कि कोई व्यक्ति COVID-19 से संक्रमित है या नहीं? 

COVID-19 कैसे फैलता है? 

यह वायरस एक संक्रमित व्यक्ति के खाँसनें एंवम छिकनें के बाद जो श्वसन बूंदें बाहर निकलती हैं और उन बूंदों के संपर्क मे आने से स्वस्थ व्यक्ति भी संक्रमित हो जाता है क्योंकि उन बूंदों में लाखों COVID-19 वायरस पाए जाते हैं और जहाँ भी ये वायरस गिरते हैं उस सतह पर ये कई घंटों तक जीवित रहते हैं, लेकिन सरल कीटाणुनाशक इसे मार सकते हैं।

वायरस से संक्रमित व्यक्ति के चेहरे को छूने जैसे- आँखें, नाक, मुंह एंवम उपयोग कि हुई वस्तुओं के संपर्क में आने से भी आप इससे संक्रमित हो सकते हैं। 

सबसे ज्यादा जोखिम किसे है? 

हम रोजाना COVID-19  से संक्रमित लोगों के बारे सुन रहे हैं। जिन व्यक्तियों में पुरानी एंवम लंबे समय से बीमारी है जैसे कि मधुमेह और हृदय रोग आदि। और यह वायरस बूढ़े व्यक्तियों को भी जल्दी संक्रमित करता है इसलिए इन लोगों को COVID-19  से संक्रमित होने का अधिक जोखिम है।

जैसा कि हम सभी जानते हैं कि यह एक नया वायरस है, और अभी हम इसके बारे में सीख रहे हैं कि यह बच्चों को कैसे प्रभावित करता है। यह तो आपको पता ही होगा कि COVID-19  वायरस किसी भी उम्र के लोगों को संक्रमित कर सकता है, लेकिन अभी तक अपेक्षाकृत बूढ़े व्यक्तियों के, बच्चों में इस वायरस के मामले कम आए हैं।

COVID-19 एक नया वायरस है और हमें इसके बारे में अधिक जानने की आवश्यकता है कि यह कैसे प्रभावित करता है?बाकि बच्चों में इस वायरस का घातक होना काफी दुर्लभ पाया गया है, अब तक मुख्यत यह बूढ़े लोगों में व पहले से लंबी बीमारी से पीड़ित व्यक्तियों को ज्यादा नुकसान पहुंचाता है। 

COVID-19 का उपचार क्या है? 

वर्तमान समय में COVID-19 को रोकने के लिए कोई टीका उपलब्ध नहीं है। हालांकि, शुरुवाती लक्षणों में से कई का इलाज किया जा सकता है। अगर आपके अंदर इसके लक्षण नजर आ रहे हैं तो तुरंत  इसका टेस्ट करवाये ताकि बीमारी को कम खतरनाक बनाया जा सके। और जरूरी चिकित्सा सेवाएं ग्रहण करें। 

COVID-19 के प्रसार को कैसे धीमा या रोका जा सकता है? 

फ्लू या आम सर्दी जैसे अन्य श्वसन संक्रमणों के साथ, सार्वजनिक स्वास्थ्य उपाय महत्वपूर्ण हैं
ताकि इस वायरस का प्रसार धीमा कर सकें:-  

  • यदि आप बीमार हैं तो अपने घर पर ही रहें। एंवम बीमारी के दौरान परिवार के अन्य लोगों से दूरी बना कर रहें।
  •  खांसते या छींकते समय मुड़ी हुई कोहनी या टिश्यू से मुंह और नाक को ढंकना।
  • तुरंत इस्तेमाल किये गए टिशू को नष्ट कर दें
  •  जब आपको लगे कि आपने किसी संक्रमित वस्तु या व्यक्ति को स्पर्श किया है उसके तुरंत बाद साबुन एंवम पानी से अच्छे से हाथ धोए।
  • आसपास कि सतहों और वस्तुओं कि अच्छे से सफाई करना ।

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *